Workshop on Sensitization on Agri incubation for Startup

कृषि स्टार्टअप विषय पर कार्यशाला

भा.कृ.अनु.प.-केंद्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान रहमानखेड़ा, लखनऊ में दिनांक 17.08.2017 को कृषि स्टार्टअप विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर संस्थान के निदेशक, डॉ. शैलेन्द्र राजन ने प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए बागवानी में उद्यमिता के बारे में अनेक दृष्टांतों के माध्यम से विस्तारपूर्वक बताया। भा.कृ.अनु.प. के विभिन्न संस्थानों से वक्ता के रूप में आये वैज्ञानिकों: डॉ. पूनम जयंत सिंह, डॉ. ए. के. शर्मा, डॉ. टी. दामोदरन ने उद्यमिता एवं कौशल विकास पर विचार प्रस्तुत किये। डॉ. सिंह ने अटल नवोन्मेषी मिशन, नीति आयोग की योजना, सीड कैपिटल, एंजिल इन्वेंटर्स और वेंचर कैपिटल आदि विषयो पर विस्तार से चर्चा की। डॉ. ए. के. शर्मा ने राष्ट्रीय उद्यमिता नीति, ई-एग्रीकल्चर स्टैटेजीएस तथा उद्यमिता विकास नीति एवं “ग्रामीण युवाओं में उद्यमिता एवं कौशल विकास” की विस्तृत पहलुओं पर जानकारी दी। डॉ. दामोदरन ने अपने संबोधन में विभिन्न जीवित उदाहरणों से बायो-फ़र्टिलाइज़र एवं बायो- पेस्टिसाइडस एंटरप्रेन्योरशिप, सीएसआर बायो-फार्मूलेशन, बायोफ़र्टिलाइज़र एक्ट 1985, सीआईबी रजिस्ट्रेशन के बारे में बताया। डॉ. तरुण अदक, आईटीएमयू के सदस्य सचिव ने किसानो को उद्यमिता एवं स्टार्टअप के लिए कौशल विकास कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षण के सम्बन्ध में जानकारी दी।

Workshop on “Sensitization on Agri-incubation for Startup” was organized at ICAR-Central Institute for Subtropical Horticulture, Rehmankhera, Lucknow on 17 August, 2017. On this occasion, Dr. Shailendra Rajan, Director, ICAR-Central Institute for Subtropical Horticulture welcomed all participants and enlightened on entrepreneurship in horticulture. Dr. Poonam Jayant Singh, Dr. A. K. Sharma and Dr. T. Damodaran Scientists from different ICAR institute delivered lectures on entrepreneurship and startup. Dr. Singh from ICAR-NBFGR, Lucknow told about Atal Innovation Mission, NITI AYOG Policy, Seed Capital, Angle Inventors and Venture Capitals. Dr. Sharma from ICAR-IISS, Lucknow said about National Entrepreneurship Policy, E- Agriculture Strategies, Entrepreneur Development Policy etc. Dr. T. Damodaran, RRS, ICAR- CSSRI, Lucknow delivered a lecture on “Prospects of Entrepreneurship Development in bio-hardening and bio-formulation production venture” and Dr. Tarun Adak, ICAR-CISH, Lucknow delivered a lecture on Training need of farmers under skill development programme for Entrepreneurship and start-up.