Orientation programme on Food Processing and Value Chain Management

आईसीएआर-सीआईएसएच आरआरएस, मालदा में श्री कौशिक भट्टाचार्य, आईएएस (जिलाधिकारी, मालदा), प्रो. आर.के. पाल (पूर्व निदेशक आईसीएआर-एनआरसीपी सोलापुर, महाराष्ट्र), परियोजना निदेशक, डीआरडीसी, मालदा एवं डॉ. डी. महलोनोबिश (उप परियोजना निदेशक, एटीएमए, मालदा) की उपस्थिति में 20.07.2018 को एसएचजी सदस्यों के लिए “खाद्य प्रसंस्करण एवं मूल्य श्रृंखला प्रबंधन” पर एक दिवसीय ओरिएंटेशन कार्यक्रम आयोजित किया गया। यह कार्यक्रम जिला ग्रामीण विकास कक्ष (डीआरडीसी), मालदा और परियोजना निदेशक, एटीएमए, मालदा, पश्चिम बंगाल द्वारा वित्तीय सहायता के सहयोग से आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में मालदा के हबीबपुर, गज़ोल, अंग्रेजी बाज़ार और हरिश्चंद्रपुर ब्लॉक से डीआरडीसी ऑफिसियल और 83 एसएचजी सदस्यों की सक्रिय भागीदारी हुई। डॉ. आर.के. पाल ने कुटीर उद्योगों के प्रचार हेतु "बागवानी फसलों में तुड़ाई उपरांत प्रबंधन, प्रसंस्करण और मूल्य श्रृंखला प्रबंधन" पर व्याख्यान दिया। डीएम ने एसएचजी सदस्यों को संबोधित किया और मालदा जिले में खाद्य प्रसंस्करण के महत्व और दायरे को उजागर करके आईसीएआर-सीआईएसएच आरआरएस, मालदा के प्रयासों की सराहना की एवं उन्होंने मालदा जिले में फसल प्रसंस्करण और मूल्यसंवर्धन के क्षेत्र में वृद्धि के लिए सभी प्रकार के मजिस्ट्रेट समर्थन का वादा किया। डॉ. दीपक नायक ने "एसएचजी सदस्यों, ग्रामीण युवाओं एवं उद्यमियों के प्रशिक्षण और रखरखाव हेतु प्रक्षेपित एवं मूल्यसंवर्धित उत्पाद विकास विषय पर व्याख्यान दिया।

One day orientation programme on “Food Processing and Value Chain Management for SHG Members” was organized on 20.07.2018 at ICAR CISH RRS Malda in august presence of Mr. Kaushik Bhattacharya, IAS (District Magistrate, Malda), Prof. R. K. Pal (Ex-Director ICAR-NRCP Solapur, Mahrashtra), Project Director, DRDC, Malda & Dr. D. Mahalonobish (Deputy Project Drector, ATMA, Malda). The programme was organized in association with District Rural Development Cell (DRDC), Malda and financial support from Project Director, ATMA, Malda, W.B. There were active participation of DRDC officials and 83 SHG members from Habibpur, Gazole, English Bazar and Harishchandrapur blocks of Malda. Dr. R. K Pal delivered the key lecture on “Post-harvest Management, Processing and Value Chain Management in Horticultural crops” promotion of cottage industries. DM addressed the SHG members and appreciated the efforts of ICAR-CISH RRS, Malda by enlighting the importance and scope of food processing in Malda district and promised for all sorts of magisterial support for up scaling the sector post harvest processing and value addition in Malda district. Dr. Dipak Nayak also delivered the lecture on “Training and Handholding of SHG members, rural youth and entrepreneurs for processed and value added product developments.