Greenhouse operator training under ASCI

भारत के कृषि कौशल परिषद के अंतर्गत ग्रीनहाउस ऑपरेटरों के लिये प्रशिक्षण

भारत के कृषि कौशल परिषद के दिशा-निर्देशों के अनुसार भाकृअनुप-केन्द्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान, लखनऊ के सुनियोजित कृषि विकास केन्द्र के तत्वावधान में ग्रीनहाउस प्रचालकों के लिए ग्रीन हाउस उत्पादन और प्रबंधन संबंधी उद्यमशीलता विकसित करने के लिये संस्थान अपने प्रायोगिक प्रक्षेत्र में दिनांक 15 जनवरी से 14 फरवरी, 2018 तक (200 घंटे) कौशल विकास प्रशिक्षण का आयोजन कर रहा है। इसमें देश के विभिन्न हिस्सों से तीस प्रशिक्षु प्रशिक्षण में भाग ले रहे हैं। उच्च मूल्य वाले सब्जियों, फूल और नर्सरी उत्पादन की खेती के लिए ग्रीनहाउस की बढ़ती संख्या के साथ, ग्रीनहाउस ऑपरेटरों की मांग बढ़ रही है जो संरक्षित संरचनाओं को प्रभावी ढंग से प्रबंधित कर सकते हैं। प्रशिक्षण उन युवाओं के लिए बेहद उपयोगी है जो ग्रीनहाउस ऑपरेटर को व्यवसाय के रूप में अपनाना चाहते हैं। डॉ. वी.के. सिंह और डॉ. एस.आर. सिंह, प्रधान वैज्ञानिकों की इसमें महत्वपूर्ण भूमिका है।

The ICAR-Central Institute for Subtropical Horticulture, Lucknow under the aegis of Precision Farming Development Centre (PFDC) is conducting Skill Development Training from 15 January to 14 February 2018 (200 hours) as per the guidelines of Agriculture Skill Council of India for Greenhouse Operators at its experimental farm of the Institute at Rehmankhera for developing entrepreneurship in the area of green house production and management. Thirty trainees from different parts of the country are attending the training. With the increasing number of greenhouses for cultivation of high value vegetables flowers and nursery production, there is an increasing demand of greenhouse operators who can manage protected structures effectively. The training is exceedingly useful for those youth who wish to opt for greenhouse operator as a profession. Dr V.K. Singh and Dr. S.R. Singh, Principal scientists of the institute are the key resource persons.