Doubling farmers’ income through awareness programme on micronutrient management, value addition and other horticultural technologies for fruits and vegetables

फलों और सब्जियों के लिए सूक्ष्म पोषक प्रबंधन, मूल्य वर्धन और अन्य बागवानी पौधोगिकियों पर जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम से किसानों की आय को द्विगुणीकृत करना

सूक्ष्म पोषक प्रबंधन, मूल्यवर्धन और अन्य बागवानी पौधोगिकियों पर जागरूकता कार्यक्रम के जरिए किसान की आय बढ़ाने के लिए, आई.सी.ए.आर. नेटवर्किग परियोजना "बागवानी की पैदावार और गुणवत्ता बढ़ाने के लिए पौधों में सूक्ष्म पोषक प्रबंधन" के तहत 15 सितंबर, 2017 को टिकैतगंज गांव, मलिहाबाद, लखनऊ में आयोजित किया गया। गुणवत्तायुक्त फल उत्पादन, प्रभावी सूक्ष्म पोषक प्रबंधन, ड्रिप सिंचाई और वास्तविक समय आधारित कीट नियंत्रण उपायों के अपनाने के लिए सुझाव दिया गया। फसल विविधीकरण, मशरूम की खेती, सघन बागबानी, तथा प्रसंस्करण द्वारा आम और अन्य फलों के मूल्य में वृद्धि के माध्यम से किसानों की आय में वृद्धि पर जोर दिया गया। किसानों के बीच सभी प्रासंगिक साहित्य हिंदी में वितरित किया गया।

Doubling farmer’s income through awareness programme on micronutrient management, value addition and other horticultural technologies for fruits and vegetables was organized at Tikaitganj village, Malihabad, Lucknow under the ICAR networking project on “Micronutrient management in Horticultural Crops for Enhancing Yield and Quality” on 15th September, 2017. For quality fruit production, effective micronutrient management, drip irrigation and real time based pest control measures were suggested to participants. Doubling farmers’ income through crop diversification, mushroom cultivation, high density plantations and value addition of mango and other fruits were advocated. All relevant literatures were distributed among the farmers.