Annual Review Meeting of DUS

डीयूएस की वार्षिक समीक्षा बैठक का आयोजन

भाकृअनुप-केन्द्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान, लखनऊ एवं आईसीएआर-आईआईएसआर, लखनऊ में दिनांक 15-17 जनवरी , 2018 को पौधा किस्म और कृषक अधिकार संरक्षण प्राधिकरण, नई दिल्ली ने डीयूएस की वार्षिक समीक्षा बैठक का आयोजन किया। डॉ एस. राजन, निदेशक ने फल वृक्षों के डीयूएस परीक्षणों के ऑन साइट प्रणालियों का मानकीकरण किये जाने की आवश्यकता के महत्व पर प्रकाश डाला जिससे फल वृक्षों का परीक्षण 2 वर्षों में पूरा किया जा सके। बैठक के दौरान आम, कागजी नींबू और अखरोट किस्मों के ऑन-साइट प्रमाणन की प्रगति की समीक्षा की गयी। संस्थान द्वारा किसानों को फल किस्मों के पंजीकरण के लिए तकनीकी सहायता प्रदान की गयी।

The ICAR-CISH organized the Annual DUS Review Meeting on January, 15-17, 2018 at ICAR-IISR, Lucknow. Dr. S. Rajan, Director underlined the need to standardize on-site test methodology of DUS testing of fruit tree crops for completing the testing in 2 years which usually takes more time due to long juvenile period. Progress on on-site certification of mango, kagji lime and walnut varieties were reviewed during the meeting. During the meet, it was observed that the Institute should provide technical assistance to facilitate the farmers’ variety registration.