प्रक्षेत्र अनुभव प्रशिक्षण

भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली के 6 वैज्ञानिक अपने 21 दिवसीय प्रक्षेत्र अनुभव प्रशिक्षण के लिए केंद्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान रेहमानखेड़ा लखनऊ पहुंचे हैI छः सदस्यीय टीम में डॉ. देवीदीन यादव, अर्चना सान्याल, डॉ. प्रियंका खाती, संतोष कुमार, डॉ. अब्दुल रहीम और सुनील सुनानी ने संस्थान के सहयोग से 10 सितम्बर तक नबी पनाह गॉंव में कृषि एवं पशुओं के समस्याओं पर अध्ययन किया, इसके साथ ही पूरी टीम गॉंव की सामाजिक, आर्थिक, कृषि उपकरणों तथा खाद्य प्रसंस्करण इकाई का अध्ययन एवं औलोकन किया I दिनाँक 04 /09 /2018 को टीम के वैज्ञानिकों ने केंद्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान एवं राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान प्रबंध अकादमी, हैदराबाद के सहायता से कृषक परिसंवाद का आयोजन नबी पनाह गॉंव में किया I इस अवसर पर राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान प्रबंध अकादमी के प्रधान वैज्ञानिक वी. के. जी. राव और केंद्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान के निदेशक डॉ. शैलेन्द्र राजन, प्रधान वैज्ञानिक, डॉ.मनीष मिश्रा मुख्य अन्वेषक फार्मर फर्स्ट परियोजना, डॉ.राम अवध राम और गांव के किसानो ने मिलकर गॉंव का सामाजिक, भौगोलिक मानचित्र बनाकर गॉंव की सामाजिक, आर्थिक और कृषि समस्याओं पर चर्चा की साथ ही उनसे निपटने के उपाय भी बताये।