Awareness workshop on ‘Safe use of pesticides in Agriculture’

मानव स्वास्थ्य और पर्यावरण पर कीटनाशकों के कुप्रभाव को कम करने एवं प्रयोग के दौरान सावधानी पर चर्चा करने के लिए संस्थान में दिनांक 11 दिसंबर 2017 को बायर क्रॉप साइंस लिमिटेड के सहयोग से एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कीटनाशकों के प्रतिकूल प्रभावों को कम करने, अच्छे कृषि अभ्यासों को प्रोत्साहित करने तथा किसानों के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र की भागीदारी के महत्व पर भी विचार-विमर्श किया गया। फार्मर फर्स्ट परियोजना के किसानों ने भी कार्यशाला में भाग लिया तथा अपने प्रश्नों के द्वारा सम्बन्धित समस्याओं से अवगत कराया।

One day workshop organized on December 11, 2017 on ‘Safe use of pesticides in Agriculture’ was organized in collaboration with Bayer Crop Science Limited for discussing careful use of pesticide to reduce its dreadful effects on the human health and environment. Importance of Public Private Partnership to create awareness among the farmers to inculcate good agricultural practice to reduce the adverse effects of the pesticides was also deliberated. Farmers of the farmer FIRST project also participated in the workshop.